Tuesday, July 5, 2022

Plywood Manufacturing Business Idea – प्लाईवुड बनाने का व्यवसाय शुरू करें और कमाएं अच्छा लाभ !

दोस्तों, प्लाईवुड बनाने के बिजनेस की बात करें तो ये कई तरह के लकड़ियों की पतली भाग को मिलाकर निर्माण किया जाता है । ख़ासकर अभी के वक्त में प्लाई का उपयोग फर्नीचर बिजनेस में काफी बड़े स्तर पर किया जाता है । ऐसे स्थिति में आप खुदे के बिजनेस के तौर पर प्लाईवुड बनाने का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। हालांकि, प्लाईवुड बनाने के बिजनेस को चालू करने के लिए आपके पास पर्याप्त पूंजी का होना आवश्यक है। आप हमारे लेख को लास्ट तक जरूर पढ़ें और आपको प्लाईवुड बनाने के बिजनेस के बारे में पूर्ण जानकारी दी जाएगी ।

यहाँ भी पढ़े :- 11 दिसंबर तक दी गई चेतावनी, अगर आपका भी पोस्ट ऑफिस में खाता है तो हो जाए सतर्क !

Plywood Manufacturing Business Idea

Small Business Idea, Small Budget Business, Small Business, Business, Business Idea, Plywood Manufacturing Business Idea, Plywood Business, How To Start Plywood Business
Plywood Manufacturing Business Idea

कैसी होनी चाहिए प्लाईवुड ?

  • मजबूती और स्थिरता :- 

प्लाईवुड की मजबूती इस बात पर डिपेंड करता है कि प्लाईवुड किस लकड़ी का उपयोग करके बनाया गया है। मेरे कहने का सीधा अर्थ यह है कि अलग अलग लकड़ी के उपयोग से अलग अलग मजबूती का प्लाईवुड निर्माण किया जा सकता है । 

  • पानी और प्रतिरोधी :- 

जब आप पतली भाग बनाने का कार्य शुरू करेंगे तो आपको लिबास को ऐसे उत्पाद के जरिए मिलना होगा जो पानी और रसायन प्रतिरोधी हो । ऐसे प्लाईवुड को मरीन प्लाईवुड के जरिए जाना जाता है ।

  • प्लाईवुड कितने प्रकार के है और इनका उपयोग :- 

प्लाईवुड एक प्रकार का कंस्ट्रक्शन से संबंधित सामग्री है जिसका इस्तेमाल कंस्ट्रक्शन के कार्य में काफी किया जाता है । यही वजह है कि आप प्लाईवुड बनाने के व्यवसाय शुरू करने से पहले इसके उपयोग के बारे में अवश्य जान लें, तभी आप एक सही व्यापार चला पाएंगे ।

  • एक्सटिरियर प्लाईवुड :- 

इस प्रकार के प्लाईवुड को जलरोधी गोंद के सहायता से निर्माण किया जाता है । ऐसा इसलिए क्योंकि आप इसको किसी बाहरी कार्य में उपयोग कर सकें । एक्सटिरियर प्लाईवुड का अधिकतर इस्तेमाल आउटडोर फ्लोर, रूफ लाइनिंग इत्यादि के लिए किया जाता है ।

यहाँ भी पढ़े :- अगर आप हजार रुपए को लाख में बदलने की सोच रखते है, तो करें KVP योजना में निवेश !

हमारी कम्युनिटी ज्वाइन करे –

Whatapp ग्रुप ज्वाइन करेJoin
Youtube चैनल सब्सक्राइब करेSubscribe
Instagram पर फॉलो करेFollow
Telegram ग्रुप ज्वाइन करेJoin

प्लाईवुड बिजनेस के लिए मार्केट रिसर्च ?

इंडिया में प्लाईवुड का यूज ज्यादातर फर्नीचर निर्मित कार्य के लिए किया जाता है । अगर एक रिसर्च के मुताबिक इस व्यापार की बात करें तो साल 2019 में इंडियन प्लाईवुड का मार्केट 4 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा चला गया था । यही मुख्य कारण है कि अगर कोई शख्स प्लाईवुड बनाने का बिजनेस चालू करना चाहता है तो ये व्यापार उसके और उसके भविष्य के लिए काफी लाभ पहुंचा सकता है । इस बिजनेस की सबसे अहम पहलू यह है कि प्लाईवुड की डिमांड मार्केट में अक्सर हाई रहता है ।

प्लाईवुड बनाने का व्यापार कैसे आरंभ करें ?

अगर आप सचमुच प्लाईवुड बनाने का कार्य चालू करना चाहते है तो आपको उपकरण और सामग्री की आवश्यकता के साथ बिल्डिंग, कार्यालय, पंजीकरण, लाइसेंस इत्यादि की जरूरत पड़ती है ।

  • सही जगह और जमीन का व्यवस्था करें ?

हालांकि, बिजनेस से संबंधित जगह का चयन आपको बिजनेस में स्थापित करने वाले प्लांट के अनुसार करना होगा । क्योंकि कितनी जगह लगेगी ये प्लांट के कार्य क्षमता पर डिपेंड करता है । लेकिन इसके अतिरिक्त व्यापार को चालू करने के लिए आपको 5000 वर्ग के स्थान की आवश्यकता पड़ेगी । अगर आपके पास खुद की खाली जमीन है तो आपके व्यापार चालू करने के लिए पर्याप्त है ।

यहाँ भी पढ़े :- 50 रुपए सस्ते दामों में खरीदें गैस सिलेंडर, नहीं होना पड़ेगा महंगाई का शिकार !

  • उपकरण एवं रॉ मटेरियल ?
  • स्पिंडललेस पीलिंग मशीन
  • हॉट प्रेस मशीन
  • 4 सेक्शन वाली रोलर बिनियर ड्रायर 
  • लिफ्ट लोडिंग और अनलोडिंग सीजर 
  • ब्रश सन्डिंग मशीन
  • ग्लू मिक्सचर
  • जनरेटर
  • कैंची
  • कोल्ड ड्राई प्रेस

यदि आप प्लाईवुड से जुड़े उपकरण एवं सामग्री की खरीदारी करते है तो उसमें आपको करीब लाखों रुपए खर्च करने पड़ेंगे । हालांकि, प्लाईवुड का बिजनेस सिर्फ उसी आदमी के लिए है जो लाख रुपए खर्च करने में सक्षम हो । हालांकि, प्लाईवुड में जो सबसे ख़ास एवं महत्वपूर्ण सामग्री है वो है इमारती लकड़ी और गोंद । इसके अतिरिक्त आपको 10 स्टाफ को कार्य पर रखना होगा, तभी आप सही ढंग से बिजनेस को बढ़ा सकते है।

  • पंजीकरण और लाइसेंस ?

Plywood making business को चालू करने के लिए आपको कुछ लाइसेंस प्राप्त करना होगा और इसके बावजूद बिजनेस का पंजीयन करवाना होगा । लाइसेंस के रूप में आपको नो ऑब्जेक्शन प्रमाण पत्र लेना होगा, ट्रेड लाइसेंस प्राप्त करना होगा, फायर डिपार्टमेंट से एनओसी प्राप्त करना होगा । इसके बाद पंजीकरण के तौर पर देखा जाए तो सबसे पहले आपको अपने बिजनेस का पंजीयन करवाना होगा, जीएसटी पंजीकरण करवाने की जरूरत पड़ेगी । इसके अलावा करेंट एकाउंट ओपन करवाना होगा और बिजनेस से जुड़े पैन कार्ड भी बनवानी पड़ेगी ।

यहाँ भी पढ़े :- अब हर सन्डे को उठाए 100 रुपए के टॉप अप का लाभ, बीएसएनएल ने कि प्रोमोशनल ऑफर जारी, ऐसे उठाए लाभ !

हमारी कम्युनिटी ज्वाइन करे –

Whatapp ग्रुप ज्वाइन करेJoin
Youtube चैनल सब्सक्राइब करेSubscribe
Instagram पर फॉलो करेFollow
Telegram ग्रुप ज्वाइन करेJoin

careerbhaskar
careerbhaskarhttps://www.careerbhaskar.com/
करियर भास्कर हिंदी ब्लॉग/वेबसाइट है। इस वेबसाइट में आपको Useful Info, Jobs, Yojna, Earn Money, और Apps और Portal की Update मिलती है ! Note :- careerbhaskar.com का किसी भी दूसरी संस्था या वेबसाइट से कोई सम्बन्ध नहीं है !
RELATED ARTICLES
ऐसी ही उपयोगी जानकारी के लिये हमसे जुड़े!
WhatsApp Group - Join
Telegram Channel - Join
Youtube Channel - Subscribe

Most Popular