वाणिज्य कृषि की दो विशेषताएं ? – Vanijya krashi Ki Do Visheshtaayein

  • Comments Off on वाणिज्य कृषि की दो विशेषताएं ? – Vanijya krashi Ki Do Visheshtaayein
  • Vanijya krashi

Vanijya krashi Ki Do Visheshtaayein

Vanijya krashi Ki Do Visheshtaayein – आज हम आपको वाणिज्य कृषि की दो विशेषताएं उसकी जानकारी देने जा रहे है।

वाणिज्य कृषि की दो विशेषताएं

वाणिज्य कृषि एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें फसलों और पशुओं को नहीं केवल खाद्य उपयोग के लिए बल्कि व्यापारिक उपयोग के लिए भी उत्पादित किया जाता है। यह कृषि व्यवसाय के रूप में भी जाना जाता है। इसकी दो विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

1.उच्च उत्पादकता: वाणिज्य कृषि व्यवसाय के लिए सबसे महत्वपूर्ण विशेषता उसकी उच्च उत्पादकता होती है। इसके लिए बिजली, मृदा विशेषज्ञता, खाद, बीज आदि उपलब्ध होना आवश्यक होता है। वाणिज्य कृषि में सबसे उत्तम तकनीकों का उपयोग किया जाता है जो उत्पादकता को बढ़ाते हैं। उत्पादकता का उच्च होना अधिक मुनाफे का अर्जन करने में मदद करता है जिससे व्यवसाय का विस्तार होता है।

2.अंतरराष्ट्रीय व्यापार: वाणिज्य कृषि व्यवसाय अंतरराष्ट्रीय व्यापार का महत्वपूर्ण स्रोत है। भारत जैसे देश विश्व के कई अन्य देशों से वाणिज्य कृषि उत्पादों की आयात और निर्यात करते है

यह प्रश्न भी देखे –

ऐसी ही उपयोगी जानकारी पाने के लिये हमारा WhatsApp Group Join करे !

careerbhaskar

करियर भास्कर हिंदी ब्लॉग/वेबसाइट है। इस वेबसाइट में आपको Useful Info, Jobs, Yojna, Earn Money, और Apps और Portal की Update मिलती है ! Note :- careerbhaskar.com का किसी भी दूसरी संस्था या वेबसाइट से कोई सम्बन्ध नहीं है !